Seccess Story In Hindi

Success Story In Hindi
आज हम आपके लिये Self Improvement की सच्ची कहानी लेकर आये हैं।
कमल एक व्यपारी का लड़का था उसने अभी अभी अपने पिता की जगह व्यापार संभालता था उसके पिता ने कहा वैसे तो कमल व्यापर में सही हैं परंतु उसमे उसके Development की कोई इच्छा नही हैं उसने अपने बेटे को एक दिन अपने पास बुलाकर कहा कि बेटा जब से तुमने व्यापार सँभाला हैं में देख रहा हूँ। तुम व्यापार में Constant हो गये हो,
क्या तुम्हारे मन में इसके विस्तार की कोई
Choice नजर नही आ रही हैं कमल ने कहा पिता जी ऐसी कोई बात नही हैं पर मुझे लगता हैं कि अब हमारे व्यापार में कोई Development नही हो सकती हैं उसके पिता जी उसके मन की बात को समझे गये उन्होंने कमल से कहा कल सवेरे तुम मेरे साथ में Morning Walk पर चलना। कमल ने कहा ठीक हैं पिता जी अगली सुबह दोनो
Morning Walkपर चल दिये कमल ने कहा बेटा इस सड़क को देखों जिस पर हम चल रहें हैं क्या तुम बता सकतें हो कि यह कहा End होंगी । कमल ने कहा पिता सड़क तो कही End नही होंगी । यह सड़क आगे चल कर मुख्य सड़क Main High Way की सड़क में मिल जाती हैं कमल की बात को बीच में रोकर उसके पिता जी बोले की इसी तरह हमारे जीवन की Development or Improvement हैं इसे हम जहाँ तक चाहे ले जा सकते हैं इसका End नही होता|
हमारे जीवन का
Development Or Improvement हैं
इसे हम जहाँ तक चाहे ले जा सकते हैं इसका End नही होता हैं।
यह भी सड़क की भांति हैं इसमे जो हमारा Target होता हैं हमे उसे जब तक नही रुकना चाहिये।
जब तक हमे हमारी अपनी Choice ki Success नही मिल जाती हैं।
अगर तुम अपने व्यापार की Development चाहते हो तो पहले तुम्हे अपनी थ Thinking Positive करनी होगी|
जब तुम अपनी Thinking Positive कर लोगे तो इस सड़क की तरह की सड़क तुम्हारी लाइफ में success के अनेक रस्ते खुल जाएंगे जहाँ तक हम सोच कर लेते हैं वहाँ तक हम पहुँच जाते हैं
अब कमल की समझ में अपने पिता की सीख समझ में आ गयी थी।
और कमल ने Decided किया हैं। अब अपनी लाइफ में Development और Improvement
हमेशा करता रहेगा

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here