Our Ability Success Story in Hindi
Our Ability Success Story in Hindi

आज 10वी कक्षा का परिणाम आया था । अमित जो की हर साल कक्षा में प्रथम आता था वह इस बार एक साधारण छात्र की तरह पास हुआ था । इस बात पर सभी हैरान थे कि आखिर ऐसा कैसे ही सकता । इस घटना का पता जब उसके मुख्यअधयापक को लगा तो उसने अमित को अपने कक्ष में बुलाया । अमित जो पहले से ही रो रहा था वह अब और भी तेज रोने लगा । उसने सोचा की मुख्यअधयापक उसे डांटेंगे इसी सोच में अमित रोता हुआ उनके पास गया । अध्यापक ने उसे पास बुलाकर कहा बेटे तुम रो क्यों रहे हो । ये तो रिजल्ट है बदलते ही रहते है अगर तुम इस बार फर्स्ट नही आये तो क्या हुआ अगली बार आ जाओगे महेनत करना मत छोड़ो इस में रोने की क्या बात है । अमित बोला सर पर ऐसा किस लिए हुआ है मैं तो महेनत भी करता था । मैं ही फर्स्ट क्यों नही आया । मुख्यअधयापक मैने तुम्हे पहले ही कहा था कि तुम अपने साथी योगेश की होड़ मत करो । योगेश पेंटिंग अच्छी करता है कक्षा में कोई भी उसके जैसी पेंटिंग नही कर सकता । तुम पढ़ते व महेनत ज्यादा करते हो इसलिए कोई तुम्हारे से नंबर परीक्षा में प्राप्त नही कर पाता । परन्तु तुमने अपने हुनर को छोड़कर पेंटिंग करना सीखा इसलिए तुम पढ़ाई पर फॉक्स ( Focus ) नही कर पाए और कम नम्बर लेकर पास हुए हो पर योगेश ने अपनी रूचि केवल पेंटिंग में बनाई रखी जिससे वह अब भी पहले की तरह ही सबसे अच्छा पेंटर है। अगर तुम भी अपनी रूचि पढ़ाई में. ही रखते तो आज कोई और तुम्हारी जगह प्रथम स्थान प्राप्त नही करता । दोस्तों भगवान ने सब को कुछ एक्स्ट्रा टेलेंट दिया है। जो सब का अलग – अलग है । हमे अपनी योग्यताओं को अच्छे से बहार निकलना चाहिए न की दुसरो की होड़ से अपनी कमाई हुई योग्यताओं को नष्ट करना चाहिए ।
दोस्तों पढ़िए लाइफ बदलने वाली हर दिन नई कहानी केवल इसी website positivevichar. Com पर लाइफ में पढ़ते रहिए और आगे बढ़ते रहिये ।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here