Moral story in Hindi

भीकू कबाडा बीनने का काम करता था वह दिन भर कड़ी मेहनत करता और कबाड़ा बिन कर अपना पेट पालता । जब वह सुबह से लेकर शाम तब कबाड़ा बीनता तब जाकर उसे शाम को अपने कबाड़े के बदले में कुछ पैसे मिलते । इसी तरह से वह अपने जीवन में अपना समय बीता रहा था ।
एक दिन उसी के पड़ोस में एक और कबाड़ी जिसका नाम दीना था वह आकर रहने लगा । वह भी भीकू की तरह ही कबाड़ा बीनने का काम करता था ।
एक दिन दोनों कबाड़ा बिन कर उसे बेचने के लिए गए । भीकू ने देखा की दीना का थैला उसके थैला से आधा भरा हुआ था । वह सोच रहा था कि इसे तो बिल्कुल कबाड़ा बीनना नही आता । सारे दिन में यह बस आधा सा थैला भर कर लाया है । जब दुकानदार ने दीना को ज्यादा पैसे दिए तो भीकू कहने लगा यह क्या है सेठ जी में आओ के लिए साल भर से कबाड़ा ला रहा हूँ । और यह अभी कुछ दिनों से ही आना चालू हुआ है फिर आप ने इसे मुझ से ज्यादा पैसे क्यों दिए । मेरा थैला भी उसके से ज्यादा भरा हुआ था । अगर उसका थैला मेरे से ज्यादा भरा हुआ होता तो मैं मान भी लेता की उसे ज्यादा पैसे मिलने चाहिए पर ऐसा तो कुछ भी नही है । आप ने मेरे साथ धोखा किया है या आप शुरू से ही मेरे साथ बेईमानी कर रहे हो ।
दुकानदार – ऐसा कुछ भी नही है मैं ने उसे उतने ही पैसे दिए है जितना वो कबाड़ा लाया था ।
भीकू – तो आप ये कहना कहना चाहते ही कि वह मुझ से ज्यादा सामान लाया था वो भी आधे थैले में ।
दुकानदार – ऐसी बात नही है
भीकू – तो फिर क्या है ?
दुकानदार – बात आधे या पूरे की नही होती है । बात होती है कि तुम कितना कीमती सामान लाए हो ।
तुम ठीक कह रहे हो कि उसका थैला तुम्हारे से आधा था पर उसने अपने थैले में सारे कबाड़े में बहुत सी चीज ऐसी भी इकट्ठी कर रखी थी जो कीमती थी या यूँ कहु की औरो से ज्यादा महंगी थी । तुम्हारा थैला तो पूरा भरा हुआ है पर तुम अपने थैले में ज्यादा काम की चीज नही रखते हो जो भी तुम लाते हो वह आगे भी कम दामों में बिकता है तुम आने थैले में काम की चीजें रखनी चाहिए न की उसे भरने पर जोर देना चाहिए ।
Moral of story हमे बताती है कि कभी – कभी हम अपनी लाइफ में बहुत से ऐसे काम करते हैं जो हमारा समय धन ताकत आदि बहुत खाते हैं पर बदले में परिणाम बहुत कम निकालकर आता है इसलिए हमे भी अपने जीवन में ज्यादा की जगह अच्छी व उपयोगी महत्वपूर्ण सकारात्मक बातों और काम की और ध्यान देना चाहिए । हर दिन नई और लाइफ में उत्साह भरने वाली स्टोरी केवल हमारी इसी वेबसाइट positivevichar.com पर ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here